पाठ संस्करण red blue grey
hindi

नया क्या है ?

सार्वजनिक नोटिस

राष्ट्रीय आवास बैंक अधिनियम, 1987 की धारा 29ए के तहत आवास वित्त कंपनियों का पंजीकरण

 

जनता को सूचित किया जाता है कि राष्ट्रीय आवास बैंक अधिनियम, 1987 की धारा 29ए के तहत पंजीकरण प्रमाण-पत्र प्राप्त किये बिना कोई भी आवास वित्त कंपनी*, अन्य बातों के साथ-साथ, आवास वित्त संस्थान का कारोबार शुरू या जारी नही रख सकती है ।

उपर्युक्त प्रावधानों का उल्लंघन करना एक दंडनीय अपराध है जिसमें कारावास और उक्त अधिनियम के तहत जुर्माना हो सकता है ।

अत: आवास वित्त कंपनियों में रुपया जमा करते या अन्य कोई व्यवहार करते समय संतुष्टि कर ले कि उस आवास वित्त कंपनी ने राष्ट्रीय आवास बैंक से पंजीकरण प्रमाण-पत्र प्राप्त कर लिया है और यह भी ज्ञात करले कि क्या पंजीकरण प्रमाण-पत्र सार्वजनिक जमा राशियां स्वीकार करने के लिए वैध है । आवास वित्त कंपनियों की विस्तृत सूची राष्ट्रीय आवास बैंक की वेब-साइटwww.nhb.org.inपर देखी जा सकती है ।

तथापि, यह स्पष्ट किया जाता है कि आवास वित्त कंपनियों में किए गए जमा न तो बीमाकृत होते हैं और न ही राष्ट्रीय आवास बैंक द्वारा कोई गारंटी दी जाती है अत: जमाकर्ताओं को उनके अपने हित में सूचित किया जाता है कि वे कंपनी से कोई लेनदेन करने से पहले कंपनी और उसकी ऋण क्षमता के बारे में जानकारी प्राप्त कर लें ।

''उन कंपनियों के नाम भी जिनके पंजीकरण प्रमाण-पत्र पाने के लिए आवेदन पत्र अस्वीकार/रद्द वापस लेने के कारण अस्वीकृत कर दिये गए और जो कंपनियां आवास वित्त संस्थान का कारोबार करने की पात्र नहीं हैं, बैंक की वेब-साइट पर देखे जा सकते हैं ।''

यह विज्ञापन सार्वजनिक हित में जारी किया गया है ।

नई दिल्ली राज विकास वर्मा
कार्यपालक निदेशक

*किसी आवास वित्त कंपनी का अर्थ है कंपनी अधिनियम 1956 (1956 का 1) के अधीन पंजीकृत कोई कंपनी जो मुख्यत: प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष रुप से आवास वित्त प्रदान करने के व्यापार का लेनदेन करती है अथवा ऐसा लेनदेन करना उसके प्रधान उद्देश्यों में से एक है ।

 
कॉपीराइट © 2012 राष्ट्रीय आवास बैंक